पापा

Poetry, Blogs (Hindi)

pooja

4 FOLLOWERS

Followadd user

Short description

पापा

पापा 

पल मे रिश्ते ,पल मे नाते

सारे बंधन तोड़ गए,

सब की आँखे गीली करके

हाथ मसलता छोड़ गये !

जिन हाथो मे बच्पन बीता

जिस गोदी मे खेले,

छोड़ गए सब रिश्ते नाते

बस छोड़ गए तस्वीरें !

पलके जब भी बंद करू मै 

है अक्ष उन्ही का दिखता,

कैसे भला भुलादूँ उनको

हूँ अंश उन्ही का मैं तो !

वो है मेरे जीवन दाता

मेरे जीवन के हीरो,

है पास नहीं वो अब मेरे

पर साथ सदा वो देंगे,

जीवन की हर सच्चाई से

हर सुख दुःख की परछाई से

लड़ना सीखा है जिनसे !

पापा होता हैं शब्द सरल

पर भाव बहुत है गहरा,

कैसे रह पाऊंगी तुमबिन

यह सोच हृदय घबराया!

मन व्याकुल हो ठहरा -२

अब और नहीं कह पाऊगी 

है घांव बहुत ही गहरे ,

कहने को शब्द बहुत कम है 

सब अश्रु कह रहे मेरे -२ 

  • img
    Shelby

    Beautiful

    on August 25, 2019

Trending Writers

View all
“"If you cannot do great things, do small things in a great way." -Napoleon Hill”

Frozen Song

“I do what I do, I love what I love!!”

Frozen Song

“Opportunity is in the eye of the beholder.”

Shelby

“The golden rule for every businessman is this: Put yourself in your customer's place.”

admin